Circuit breaker and Isolator difference in hindi

दोस्तों आज मैं आपको Isolator और circuit breaker क्या है, और इन दोनो में क्या अंतर होता है यह बताऊंगा। और इसके साथ अगर आपने कभी On load device और Off load device का भी कभी नाम सुना है, तो आपको इससे जुड़ी जानकारी भी आज मिल जाएगी।

Circuit breaker और Isolator क्या है?

Circuit breaker और isolator यह दोनो ही इलेक्ट्रिकल उपकरण को switching कराने के लिए काम में आते है। मतलब इन दोनो की मदद से हम इलेक्ट्रिकल के सर्किट को ओपन और क्लोज कर सकते है। 

इसके अलावा आप यह जान लीजिए। isolator को ही ऑफ-लोड डिवाइस कहा जाता है और सर्किट ब्रेकर को ऑन-लोड डिवाइस कहा जाता है।

Isolator को off load device इसलिए कहा जाता है, क्योंकि इसका इस्तेमाल हम सिर्फ बंद सर्किट में ही कर सकते हैं।

मतलब- Isolator की मदद से हम कभी भी किसी उपकरण को चालू कंडीशन में बंद नही कर सकते है। अगर आप कभी isolator की सेफ्टी को पढ़ते हो तो उसमे भी यही लिखा होता है, की चालू लोड में आइसोलेटर का उपयोग नही चाहिए।

जबकि circuit breaker में ऐसा कुछ नही होता है। हमारे घर में लगी MCB भी एसर्किट ब्रेकर ही होती है। सर्किट ब्रेकर को हम लोड चलने की कंडीशन में भी इस्तेमाल कर सकते है।

isolator-vs-circuit-breaker-hindi

तो इस वजह से ही circuit breaker को On load device कहा जाता है, क्योंकि इसका इस्तेमाल हम चालू लोड में कर सकते है। जबकि Isolator एक Off load device है। इसे हम तभी उपयोग कर सकते है, जब हम हमारे उपकरण ऑफ हो।


Isolator और Circuit breaker में अंतर

● Isolator एक ऑफ-लोड डिवाइस है, जबकि Circuit Breaker ऑन-लोड डिवाइस होता है।

● आइसोलेटर को सिर्फ मैन्युअल तरीके से उपयोग में लिया जा सकता है, मतलब अगर हम isolator से सप्लाई बन्द चालू करना चाहते है, तो हमे उसके पास जाना होता है। जबकि सर्किट ब्रेकर automatic और manual दोनों तरीके से उपयोग में लिए जा सकते है।

● Circuit breaker के उदाहरण MCB, mccb, ACB आदि है, जबकि isolator के अंदर हमारे सबस्टेशन में लगे G.O. आते है।

● आइसोलेटर का मुख्य काम हमारे उपकरण और इलेक्ट्रिकल सप्लाई को आपस में isolate मतलब दूर दूर करना होता है। जबकि सर्किट ब्रेकर का मुख्य काम हमारे उपकरण को किसी भी इलेक्ट्रिकल फाल्ट से सुरक्षा देना होता है।

● इलेक्ट्रिकल में कभी कोई फाल्ट होने पर Isolator कभी अपने आप ओपन नही होता है। जबकि circuit breaker इस समय ऑटोमैटिक ट्रिप होकर हमारे उपकरण को सुरक्षा देता है।

● Isolator एक मेकेनिकल स्विच है, यह इलेक्ट्रिकल उपकरण को किसी तरह की सुरक्षा नही देता है। जबकि सर्किट ब्रेकर इलेक्ट्रिकल स्विच है, और यह उपकरण को फाल्ट के समय सुरक्षा देता है। 

● Circuit Breaker की कीमत Isolator के मुकाबले काफी ज्यादा होती है।


यह भी पढ़े(Also Read):-

तो दोस्तो उम्मीद है, आज आपके Isolator and Circuit breaker से जुड़े कई सवालो के जवाब मिल गए होंगे। अगर आपके अभी भी कोई सवाल इंजीनियरिंग से जुड़े है, तो आप हमे कमेन्ट करके जरूर बताये।

इंजीनियरिंग दोस्त (Engineering Dost) से जुड़ने के लिए आपका धन्यवाद। 🙂 

अगर आप इलेक्ट्रिकल की वीडियो हिन्दी मे देखना पसन्द करते है, तो आप हमारे YouTube Channel इलेक्ट्रिकल दोस्त को जरूर विजिट करे।

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here