Boiler क्या है इसके प्रकार और उपयोग

आज की पोस्ट में हम Boiler क्या है boiler कैसे काम करता है boiler की जरूरत और साथ ही types of boiler के ऊपर बात करेंगे।

What is boiler (बॉयलर क्या है)

Boiler एक मशीन है जो की water को steam मतलब भांप में बदलने का काम करती है, इसलिए boiler को steam generator के नाम से भी जाना जाता है।

boiler से मिलने वाली steam का उपयोग कई जगह पर किया जाता है। अगर हम इस steam के उपयोग की बात करे तो यह सबसे ज्यादा power generating station जहाँ पर बिजली को जनरेट किया जाता है वहाँ उपयोग में आती है।

boiler working in hindi

इसके अलावा steam की हमे और भी कई इंडस्ट्री में जरूरत पड़ती है जैसे- Textile industry, sugar mill,chemical industry आदि। तो इन सभी इंडस्ट्री के अंदर भी आपको बॉयलर देखने को मिल जाते है।

Boiler से मिली स्टीम का उपयोग

स्टीम का उपयोग हर जगह पर अलग अलग काम के लिए किया जाता है। मैं आपको कुछ मुख्य उपयोग बताता हूं, जिसकी मदद से आपको आईडिया लग जाएगा।

  1. Power plant में टरबाइन घूमने के लिए
  2. पानी को गरम करने के लिए
  3. AHU में हवा गरम करने के लिए

Boiler Definition (बॉयलर की परिभाषा)

Boiler or Steam Generator is Closed Vessel in which water is converted into steam by the application of heat is provided by the combustion of fuel.

बॉयलर और स्टीम जेनरेटर एक बंद पतीला(Closed Vessel) होता है, जिसमें ईंधन दहन के द्वारा मिलने वाली ऊष्मा का उपयोग करके पानी को भाप में परिवर्तित किया जाता है।

इसमे Fuel को जलाकर heat energy को पैदा किया जाता है। Fuel burn करने से मिली heat energy की help से हम water को भाप मे बदल लेते है।

Types of Boiler (बॉयलर के प्रकार)

बॉयलर को उसकी जरूरत और डिज़ाइन के अनुसार अलग अलग तरह से बाटा गया है।

  1. Based on Tube Contain
  2. Position of Furnace
  3. According to Boiler Position
  4. According to the use
  5. According to the water and steam circulation
  6. According to the Fuel Uses
  7. According to the pressure developed
  8. Based on fuel combustion system
  9. Based on fuel feeding

Based on Tube Contain boilers

Boiler में उपयोग होने वाली Tube के आधार पर बायलर को दो भागों में बांटा जाता है।

A) Fire Tube Boiler- फायर ट्यूब बॉयलर में Tube के अंदर फायर रहती है और tube के चारो तरफ पानी भरा रहता है, इसी कारण इसे fire tube boiler कहा जाता है।

Boiler Types in hindi

फायर ट्यूब बॉयलर को ज्यादातर उस जगह पर लगाया जाता है, जहाँ पर हमें लौ प्रेशर steam की जरूरत होती है।

B) Water Tube Boiler- इस बॉयलर में ट्यूब के अंदर पानी रहता है, और बाकी जगह यह आग रहती है। जिसके कारण इस बॉयलर से हमे ज्यादा स्टीम मिल जाती है।

जहाँ पर हमें हाई प्रेशर स्टीम की जरूरत होती है, वहाँ पर हम Water tube boiler का उपयोग करते है।

Position of Furnace Boilers

A) Externally Fired Boiler- इस प्रकार के बॉयलर में हम furnace के बाहर फायर को बॉयलर में देते है।

मतलब इस boiler में fire को हम अलग सेक्शन में रखते है, मतलब furnace के बाहर रखते है, इसीलिए इसको हम Externally Fired Boiler कहते है।

B) Internally Fired Boiler- यह बॉयलर Externally Fired Boiler से बिल्कुल उल्टा हो जाता है। जब हम fire को furnace के अंदर ही करते है, इसके अंदर ही हीट पैदा करते है तो यह Internally Fired Boiler कहलाता है।

FBC boiler, pfbc boiler यह दोनों ही Internally Fired Boiler के उदाहरण है, इसमे fire furnace के अंदर ही की जाती है।

According to Boiler Position

इसके अलावा बॉयलर को उसकी पोजीशन के अनुसार भी विभाजित किया जाता है। इसमें boiler position का मतलब boiler shell की axis की पोजीशन है।

इस तरह से बायलर को तीन भागों में बाटा जाता है।

  1. Vertical Boiler
  2. Horizontal Boiler
  3. Inclined Boiler

According to the use

Stationary Boiler- यह बॉयलर एक जगह पर फिक्स होते है, यह अपनी पोजीशन में बदलाव नही कर सकते है। Stationary Boiler में वह सभी बड़े बड़े बॉयलर आते है, जिसको कंपनी की building में बनाया जाता है।

अगर हम इसके उदाहरण की बात करे तो FBC Boiler, CFBC Boiler, PFBC Boiler यह भी Stationary Boiler के ही उदाहरण है, यह सभी बॉयलर एक ही जगह fix रहते है।

Portable Boiler- पोर्टेबल बॉयलर को Mobile boiler भी बोला जाता है। Marine Boiler इस प्रकार के बायलर का एक उदाहरण है, यह boiler पानी के जहाज में उपयोग लिया जाता है।

इस प्रकार Marine Boiler जहाज में होने की वजह से अपनी पोजीशन को एक जगह से दूसरी जगह पर बदलता रहता है। तो इसी प्रकार के बायलर को ही Portable Boiler और Mobile boiler कहा जाता है।

According to the water and steam circulation

इसके अलावा steam और water किस प्रकार से boiler के अंदर circulate मतलब बह रहे है, उसके अनुसार भी बॉयलर को विभाजित किया जाता है।

Natural Circulation Boiler इसके अंदर वो सभी boiler आते है, जिसके अंदर water और steam का सर्कुलेशन नेचुरल रहता है। इस बॉयलर में हम कभी भी प्रकार के force को नही लगाते है।

इस बॉयलर में steam और water नैचुरली तरीके से ही ऊपर और नीचे बहती है।

Forced Circulation Boiler- इसके अलावा जब हम water और steam को एक जगह से दूसरी जगह लाने के लिए किसी force की मदद लेते है, वह Forced Circulation Boiler कहलाते है।

यह प्रकिर्या आपने कई बार देखी होगी, कि हम boiler में water को एक जगह से दूसरी जगह लाने के pump की मदद ले रहे है। तो इसी प्रकार से जिस भी boiler में हम water और steam flow कराने के लिए force को लगाते है तो वह Forced Circulation Boiler कहलाता है।

Forced Circulation Boiler भी दो भागो में बाते जाते है।

  • Controlled
  • Once Through

According to the Fuel Uses

Boiler को फ्यूल उपयोग के अनुसार भी बांटा जाता है। Fuel का इस्तेमाल हम heat को पैदा करके water को steam में बदलने के लिए करते है। सभी boiler में heat पैदा करने के लिए अलग अलग प्रकार के fuel का इस्तेमाल किया जाता है, जोकि निम्न प्रकार से है।

  1. Coal Fired Boiler
  2. Oil Fired Boiler
  3. Gas Fired Boiler
  4. Electrically Heated Boiler
  5. Nuclear heat Boiler
  6. Solar Energy boiler
  7. Hot waste gases boiler

According to the pressure developed

इसके बाद हम boiler को उसके प्रेशर के according भी बाँटते है।

Low Pressure Boiler- इस बॉयलर का प्रेशर 80bar से कम होता है तो उसे हम Low Pressure Boiler कहते है। कई बार हम 40bar से कम वाले boiler को लौ प्रेशर बॉयलर कह देते है, और 40 bar से 80 bar तक के बॉयलर को medium pressure boiler कहते है।

High Pressure Boiler- जिस बॉयलर का pressure 80 bar के ऊपर होता है, वह हाई प्रेशर बॉयलर कहलाते है। high pressure boiler को दो तरह से बाँटा जाता है।

  1. Sub critical Boiler- जिस बायलर का प्रेशर 80bar से 221bar के बीच मे होता है, वह Sub critical High pressure Boiler कहलाता है।
  2. Super Critical Boiler- और जिस बायलर का प्रेशर 221bar से अधिक होता है, वह Super Critical high pressure Boiler कहलाता है।

Based on the fuel combustion system

Suspension Combustion Boiler- सस्पेंशन बॉयलर में उन boiler को शामिल किया जाता है, जिसमे हवा में ही फ्यूल को burn कर दिया जाता है यहाँ Furnace के बीच में ही फ्यूल को burn कर दिया जाता है। उदाहरण- PF Boiler

Bed combustion Boiler- जिस बायलर में fuel का combustion मतलब दहन bed पर कराते है, वह Bed combustion Boiler कहलाते है।

बेड कंबोशन बायलर दो प्रकार के होते है।

  1. Chain Gate Stocker Boiler
  2. Fluidized Bed Boiler

Based on fuel feeding

बायलर को fuel feeding के अनुसार भी बाँटा जाता है। फ्यूल फीडिंग का मतलब हम फ्यूल को boiler में किस प्रकार से भेज रहे है। यहाँ हम बॉयलर में दो प्रकार से fuel feeding करते है।

1. Above Bed- जब bed के ऊपर से fuel को feed किया जाता है, तो वह above bed fuel feeding boiler कहलाता है। उदाहरण- Stoker Bed, CFBC boiler

2. Under Bed लेकिन अगर हम fuel को bed के नीचे से feed करते है तो वह Under Bed fuel feeding boiler कहलाता है। उदाहरण- AFBC boiler

तो यह कुछ मुख्य प्रकार है, जिस तरह से boiler को बाँटा जाता है। वैसे इसके अलावा हम ओर भी कई तरह से boiler को विभाजित कर सकते है।
जैसे- Tube के अनुसार, drum के अनुसार, ड्राफ्ट के अनुसार आदि। लेकिन आज मैंने आपको मुख्य पॉइंट बताए है।


तो दोस्तो उम्मीद है आज आपके Boiler से जुड़े कई सवालो के जवाब मिल गए होंगे। अगर आपके अभी भी कोई सवाल इंजीनियरिंग से जुड़े है, तो आप हमे कमेन्ट करके जरूर बताये।

इंजीनियरिंग दोस्त (Engineering Dost) से जुड़ने के लिए आपका धन्यवाद 🙂

अगर आप इलेक्ट्रिकल की वीडियो हिन्दी मे देखना पसन्द करते है, तो आप हमारे YouTube Channel इलेक्ट्रिकल दोस्त को जरूर विजिट करे।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here